[Photoes] Feb 29th, 2012 Protest Demonstration and Hunger Strike in Solidarity for Soni Sori (Rajghat Delhi and Mumbai)

At CST Station in Mumbai, India — activists, allies and supporters gather in solidarity for Soni Sori. Plus photoes from RajGhat, Delhi where 30 odd activists also gathered for a hunger strike.

This slideshow requires JavaScript.

More Photos can be found here at Independent Media

A report on the RajGhat Hunger Strike by Ashutosh Kumar (Hindi) (Facebook Note)

‘राजघाट पर भूख हड़ताल की एक रपट” (कुछ कवितानुमा )
by Ashutosh Kumar on Wednesday, February 29, 2012 at 9:59pm·

गाँधी -समाधि के आंगन में बोलने की मनाही थी.इस हद तक कि गांधीजी तक को पथरा दिया गया था. हम कुछ ‘पढ़े लिखे’ लोग बाहर ही एक पेड़ के नीचे बैठ गए . हमने गीत गाये .गोरख , बल्ली ,अदम के गीत . सोनी सोरियों के अपमान की उस धधकती हुयी आग के गीत जो देश भर में सिर्फ इस लिए किया जा रहा था कि वे सोनी सोरियाँ थीं .
समाधि पर भीड़ यों भी कम थी .वह शहर से भी गायब होती जा रही थी.किसी ने बताया कि भीड़ आजकल सिर्फ जेलखानों , पागलखानों या साहित्य -पुस्तक -मेलों में दिखाई पड़ती है.
नजदीक ही सुप्रीम कोर्ट में सोनी सोरी की आख़िरी सुनवाई एक बार फिर आगे बढ़ा दी गयी थी.
अचानक गांधीजी जैसी एक छाया दीख पडी सामने . दो नौजवानों के कंधे के सहारे रुक रुक कर चलती .छाती से फूटती खून की लकीर अंगोछे में छुपाये .
लोहे की एक टूटी हुयी बेंच थी जिस पर हम ने उन्हे आदर के साथ बिठाया .और पाया कि कोई और नहीं खुद जस्टिस सच्चर थे .
प्रधानमंत्री कार्यालय में एक भूमिगत अज़ीयतखाना है . बर्फ ही बर्फ है वहां .मैं वहीं कैद था , लेकिन देखो मैं निकल आया हूं.
आओ चलते हैं . सब से पहले गांधीजी को इस पथरीले जेलखाने से आज़ाद करते हैं .
कहते हैं कि बापू चलो .लेकिन अबकी लाठी टेक कर नहीं, तान कर .
खुद अपनी आँख से देखो कि सत्यकुमारी और अहिंसादेवी के साथ क्या सलूक हो रहा है इन दिनों भारत -दंडक- अरण्य में.

Advertisements
Tagged , ,

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: